कुत्ता समझकर घर ले आये थे परिवार वाले, देखते ही डॉक्टर ने बुला ली पुलिस, जानिए पूरा मामला

dog

जानवरों को घर में रखना आजकल प्रेस्टीज इशु हो गया है, लोग घर में कुत्ते तथा बिल्ली पालने के शौकीन हो गए हैं, ऐसा यह सोशल मीडिया पर एक कहानी वायरल हुआ है, जिसमें एक परिवार को कुत्ता पालने की चाहत भारी पड़ गई।

यह कहानी चीन के यूनान प्रांत में रहने वाली सू यून और उनके परिवार की है । परिवार के सदस्यों की बड़ी इच्छा थी कि उनके घर भी एक कुत्ता हो और इसी वजह से वह बाजार में कुत्ता खरीदने गए। जिस समय वह बाजार में कुत्ते को लेने गए वहां कुछ खास तरह के कुत्ते नहीं दिख रहे थे, तभी उनकी निगाह एक नन्हे पिले पर पडी।जिसे देखते ही उनका दिल उस पर आ गया और पूरा परिवार नन्हा पिल्ला घर ले आया।

जब उनकी फैमिली ने कुत्ते की नस्ल के बारे में दुकानदार से पूछा तो दुकानदार ने बताया पिल्ला मास्टिफ प्रजाति का है।

घर आने के बाद कुत्ते का पिल्ला प्रतिदिन दो बाल्टी पास्ता और एक पेटी फल खा जाता था, फैमिली को लगा कि शायद कुत्ते को ज्यादा भूख लगती होगी परंतु इससे पहले उन्होंने इतना ज्यादा खाने वाला कुत्ता नहीं देखा था।

उसके बाद सु यून के परिवार ने देखा कुत्ता बड़े अजीब तरीके से चिल्लाता है। उन्होंने इससे पहले कुत्ते की आवाज ऐसी नहीं सुनी थी। कुत्ते की आवाज भोकने जैसी ना लगकर चिल्लाने जैसी लग रही थी। कुत्ते का व्यवहार भी बड़ा अजीब था, परंतु उनके परिवार की उस कुत्ते के प्रति प्यार में कोई कमी नहीं आई।

एक दिन परिवार वालों ने देखा कुत्ता अपने आप खड़ा हो गया है जबकि परिवार के किसी भी सदस्य ने उसे खड़ा होना सिखाया ही नहीं था फिर एक क्षण के बाद उन लोगों को लगा शायद उसने खुद ही सीख लिया होगा या फिर इसकी नस्ल की खूबी होगी।

bear

परिवार के लोग उस कुत्ते का नाम “छोटू ब्लैकी ” रखें, वह जमकर खाना खाता था इसलिए से वह बहुत तेजी से बड़ा होने लगा दो साल की ही उम्र में 1 मीटर ऊंचा हो गया और वजन भी 110 किलो बढ़ गया। किले की ऊंचाई और वजन देखकर परिवार के सदस्य काफी हैरान हो गए, अब उनके दिमाग में यह प्रश्न आने लगा कि कुत्ता इतनी तेजी से कैसे बड़ा हो रहा है। पर कुछ दिन के बाद वह कुत्ता कुत्ता ना लग कर एक शिकारी जानवर लगने लगा अब परिवार के लोगों को काफी चिंता होने लगी।

कुत्ते का मालिक यानी सु यून डॉक्टर के जानवर के पास पहुंचे। जैसे ही डॉक्टरों ने कुत्ते को देखा उन्हें समझ आ गया यह कुत्ता नहीं कोई और जानवर है, डॉक्टर ने कंट्री पब्लिक सिक्योरिटी ब्यूरो वालों को बुलाया, ब्यूरो वाले को परिवार के सदस्य ने बताया कि यह कुत्ता एक बाल्टी पास्ता और एक फल की बड़ी टोकरी खा जाता है परिवार के सदस्यों ने उसके वह बड़े दांत भी दिखाएं।

तब जाकर काउंटी पब्लिक सिक्योरिटी ब्यूरो के अधिकारी ने बताया, कि यह कुत्ता नहीं बल्कि एक भालू है, ऐसे लोग कलर बेयर या मून बेयर भी कहते हैं, IUCN ने इसे लुप्त प्राय प्राणी की श्रेणी में रखा है, इस बालू के अधिक शिकार होने की वजह से अब इनकी संख्या कम होती जा रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top